कोरोना से परिवार के मुखिया की मृत्यु हुई तो रक्तवीरों ने बढ़ाया मदद का हाथ

0
108

प्रजापति मंथन : कोटा। कोरोना महामारी के कारण कितने ही परिवारों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा तो कितने ही परिवारों ने अपने परिजनों को गंवा दिया है। कईयों के सिर से माता-पिता का साया उठ गया तो कईयों ने अपनी आँखो के सामने अपनी संतान को दम तोड़ते तक देखा।

ऐसी ही एक दुखभरी दांस्ता है दीगोद के चंद्रावला ग्राम में 33 वर्षीय ओम प्रजापति के परिवार की। हलवाई का काम करने वाले ओम प्रजापति का 27 अप्रैल को कोरोना के कारण निधन हो गया। अब उनके परिवार में पत्नी रेखा प्रजापति और दो छोटे-छोटे बच्चे है। अब परिवार बिलकुल असहाय हो गया है तथा बच्चों एवम परिवार की जिमेदारी पत्नी के कंधे पर आ गई।

परिवार की सहायता के लिए रक्तवीर युवा टीम ने राशि एकत्रित कर सहयोग प्रदान किया है। रक्तवीर युवा टीम संस्थापक अध्यक्ष अंकित प्रजापति ने बताया की टीम को सूचना मिलने पर रक्तवीर युवा टीम एवम रक्तदान महादान परिवार ने 6500₹ की परिवार को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान की। इस कोरोना काल में पहले भी संयुक्त रूप से आर्थिक रूप से पिछड़े कई परिवारों की मदद की जा चुकी हैं एवम टीम के द्वारा आगे भी असहाय परिवारों को जितनी मदद हो सकेगी की जाएगी।

इस दौरान नंदलाल प्रजापति चन्द्रावला, रक्तवीर युवा टीम वरिष्ठ सदस्य लोकेश ख्यावदा, उमंग स्वामी निमोदा, कैलाश, नितेश इत्यादि उपस्थित रहे।